नींद से मुलाक़ात

बहुत दिनों से नींद से मुलाक़ात नहीं हुई थी ,
सोचा मिल ही आते हैं,
काफी दिनों से नाराज़ थी…
की घर आकर भी नहीं आते हैं .
की और बातों से बात करते हैं.
मुझसे नहीं करते गुफ्तगू ..
तो आज इत्मीनान से उसके घर बैठ कर
पूरी करदी उसकी यह भी आरज़ू

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s