खोया दिलबर

तेरे आने की बड़ी तैयारियां की हमने
पलके बिछायीं और सपने भी सजाये ,
बड़ा इंतज़ार किया की तू अब आये..
कुछ नए सूट भी सिलवाए की तुझे पहनाएंगे
की अपने दिलबर को हम खुद ही सजायेंगे ..
पर जब थक गयी आँखें तेरा रास्ता निहारते
जब सूख गया गला तुझे पुकारते
तो खुद ही पहन के हमारे अपने दिलबर का लिबास …
हम ही बन गए खुद अपने ही ख़ास
की तुझसे उम्मीद छोड़ खुद से इश्क़ लड़ाया ,
तेरे न आने का शुक्रिया…
क्योंकि अब हम ने खुद में ही अपना खोया प्यार पाया..

You are your best friend…you are your only love….start a love affair with your own self…you won’t need anyone else..

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s